म्यांमार में लोकतंत्र समर्थकों ने ताली बजाकर सैन्य कार्रवाई के खिलाफ जताया विरोध, देश में अब भी जारी है सेना का दमनचक्र

229

म्यांमार में तख्तापलट का विरोध करने के लिए लोकतंत्र समर्थक आंदोलनकारी नित-नए तरीके अपना रहे हैं। रविवार को ईस्टर-एग-स्ट्राइक के बाद सोमवार को प्रदर्शनकारियों ने एक साथ ताली बजाकर सैन्य कार्रवाई के खिलाफ विरोध जताया। उधर, आसियान इस संकट पर बातचीत के लिए तैयार हो गया है। ताली बजाने का क्रम देश के सबसे बड़े शहर यंगून में शाम पांच बजे शुरू हुआ।

एक प्रदर्शनकारी ने फेसबुक पर लिखा, ‘इसका उद्देश्य हमारी तरफ से लड़ने वाले जातीय हथियार बंद संगठनों और जनरल जेड डिफेंस यूथ को सम्मानित करना है।’ सोमवार को हुए प्रदर्शनों में भी एक व्यक्ति को सुरक्षा बलों ने मार गिराया।

बता दें कि एक फरवरी को हुए तख्तापलट के बाद से अब तक सेना का दमनचक्र जारी है। सेना की कार्रवाई में अब तक लगभग छह सौ लोग मारे जा चुके हैं। वहीं विरोध-प्रदर्शनों को दबाने के लिए सेना ने नित नए तरीके अपना रही है। मोबाइल डाटा सर्विस बंद करने के साथ वायरलेस ब्राडबैंड की सर्विस भी बंद कर दी गई।