कोरोना संकट में लोगों को मदद मुहैया करवा रहे यूथ कांग्रेस प्रमुख श्रीनिवास से दिल्ली पुलिस ने की पूछताछ, रणदीप सुरजेवाला बोलें- ‘मोदी सरकार का भयावह चेहरा…’

330
Randeep Surjewala

कोरोना वायरस महामारी के दौरान पिछले कई दिनों से लोगों को मदद मुहैया करवा रहे यूथ कांग्रेस के प्रमुख श्रीनिवास बी. वी. से शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पूछताछ की। इस पूछताछ की वजह से भड़की कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला है। श्रीनिवास और यूथ कांग्रेस का समर्थन करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला समेत कई कांग्रेसी नेता सामने आए हैं। मालूम हो कि पिछले कई दिनों से यूथ कांग्रेस के प्रमुख श्रीनिवास लगातार सोशल मीडिया के जरिए से महामारी की चपेट में आए लोगों की मदद कर रहे हैं। अस्पतालों में बेड्स, ऑक्सीजन सिलेंडर्स, कंसेंट्रेटर्स समेत विभिन्न तरीके से यूथ कांग्रेस लोगों को मदद मुहैया करवा रही है।

‘मारने वाले से बचाने वाला हमेशा बड़ा’
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि बचाने वाला हमेशा मारने वाले से बड़ा होता है। साथ ही उन्होंने आईस्टैंडविदआईवाईसी हैशटैग भी लगाया। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मदद करने वाले यूथ कांग्रेस के साथियों और युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास को दिल्ली पुलिस भेज कोरोना के मरीजों की मदद से रोकना मोदी सरकार का भयावह चेहरा है। ऐसी घृणित बदले की कार्रवाई से न हम डरेंगे, न हमारा जज्बा टूटेगा। सेवा का संकल्प और दृढ़ होगा। उन्होंने वीडियो जारी कर कहा, क्या मुसीबत में ऑक्सीजन, रेमडेसिविर, दवा, बेड, वेंटिलेटर्स आदि पहुंचाना अपराध है? लगता है कि नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह अपराध है। इसी वजह से दिल्ली पुलिस को पीएम मोदी और अमित शाह ने भेजा है। यूथ कांग्रेस सोनिया गांधी और राहुल गांधी के मार्गदर्शन में इसी तरह मदद करती रहेगी।”

कांग्रेस का पीएम मोदी-अमित शाह पर हमला
वहीं, श्रीनिवास का समर्थन करते हुए कांग्रेस ने ट्वीट किया, ”श्रीनिवास को टारगेट करना हर भारतीय नागरिक, समूह जिसने महामारी में लोगों की मदद करी, उन्हें टारगेट करने जैसा है। पीएम मोदी और अमित शाह ने करुणा को अपराध बना दिया है।” कर्नाटक कांग्रेस के नेता डीके शिवकुमार ने भी निशाना साधते हुए कहा कि यूथ कांग्रेस और श्रीनिवास को टारगेट करना बिल्कुल स्वीकार्य नहीं है। उत्पीड़न और धमकी राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ बीजेपी की एसओपी एक मुख्य हिस्सा है। लेकिन इस तरह के हमले केवल कांग्रेस को मजबूत करेंगे।” इसके अलावा भी कई अन्य कांग्रेसी नेताओं ने श्रीनिवास से हुई पूछताछ का विरोध किया है।

दिल्ली पुलिस की पूछताछ के बाद क्या बोले श्रीनिवास?
वहीं, यूथ कांग्रेस के प्रमुख श्रीनिवास ने बताया, ”पुलिस ने शुक्रवार सुबह मुझे फोन किया और दिन में करीब पौने बारह बजे मेरे कार्यालय पहुंची। उन्होंने मुझसे पूछताछ की कि आप ये सब कैसे कर रहे हैं।” हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कहा कि दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश के बाद पूछताछ की गई है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि हाई कोर्ट ने कोविड-19 के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाओं और अन्य सामग्रियों के वितरण में शामिल नेताओं से दिल्ली पुलिस को पूछताछ करने और अपराध के मामले में एफआईआर दर्ज करने को कहा था। अधिकारी ने बताया कि हाई कोर्ट के निर्देशों की तामील करते हुए कई लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है।