गुजरात के सीएम रूपाणी के इस्तीफे पर कांग्रेस का तंज, कहा – ‘BJP का मतलब भयंकर झगड़ा पार्टी’

381
Randeep Surjewala

भारतीय जनता पार्टी को ‘भयंकर झगड़ा पार्टी’ बताते हुए कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शनिवार को कहा कि बीजेपी शासित प्रदेशों में अंदरुनी टकराव पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की विफलता को दिखाता है।

सुरजेवाला ने ट्विटर पर लिखा, ”बीजेपी- भयंकर झगड़ा पार्टी। सभी बीजेपी शासित राज्यों में गहरी जमी अंदरुनी लड़ाई, चाहे वह गुजरात हो, राजस्थान, यूपी, एमपी, असम या हरियाणा। यह पीएम और गृह मंत्री के नेतृत्व की विफलता को दिखाता है। यदि उनकी ओर से नियुक्त किए गए सीएम विजय रूपाणी 5 साल तक गुजरात में पांच वर्ष तक सत्ता में रहे रुपाणी अब असफल होते हैं तो यह मोदी शाह की विफलता है।”

एक अन्य ट्वीट में सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा में झगड़ा भयानक है। यह झगड़ा उत्तर प्रदेश में योगी-मोदी, राजस्थान में वसुंधरा-मोदी, कनार्टक में येदियुरप्पा-मोदी मध्यप्रदेश में शिवराज- नरोत्तम-कैलाश, उत्तराखंड में तीरथ त्रिवेंद्र, धामी -दिल्ली, गोवा-प्रमोद सावंत-विश्वजीत राणे, हरियाणा-खट्टर- विज, हिमाचल में जयराम -अनुराग और गुजरात में रुपाणी- मोदी-शाह के बीच है।

इस बीच रूपाणी के इस्तीफे पर प्रतिक्रिया देते हुए आम आदमी पार्टी की गुजरात इकाई के अध्यक्ष गोपाल इतालिया ने कहा कि भाजपा की मुख्यमंत्रियों को बदलने की परंपरा है और राज्य में आम आदमी पार्टी द्वारा बनाए गए नैतिक दबाव की वजह से रूपाणी को इस्तीफा देना पड़ा।

उन्होंने कहा, ”2001 में भूकंप के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री केशूभाई पटेल को बदला गया। फिर 2015 में शुरू हुए पाटीदार आरक्षण आंदोलन के दौरान आनंदी बेन पटेल को हटाया गया और अब विजय रूपाणी को। निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने रूपाणी को राज्य में कोविड महामारी के दौरान कथित अव्यवस्थाओं के लिए जिम्मेदार ठहराया।” उन्होंने कहा, ”अगर वह कोविड संकट के अपने कुप्रबंधन के लिए इस्तीफा देते तो गुजरात के लोग तारीफ करते।