तनाव के बीच भारत पर चीन के विदेश मंत्री का बयान, कहा- दोनों देशों के बीच संपर्क बरकरार..

29
china
china

चीन के विदेश मंत्री वांग निर्विवाद को कहा कि बिल्डिंग द्विपक्षीय संबंधों को स्थिर और मजबूत करने के लिए भारत के साथ काम करने को तैयार है हवाओं ने कहा कि दोनों देश सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थिरता बनाए रखने के लिए प्रतिबद्धता है जहां 2020 से तनाव व्याप्त है चीन के विदेश मंत्री ने 2022 में अंतरराष्ट्रीय परिस्थितियां और चीन के विदेशी संबंधों पर एक संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि दोनों देशों ने राजनैतिक और सैन्य स्तर पर संपर्क बरकरार रखा है

दरअसल चीन के विदेश मंत्री वांग और भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भारत-चीन सीमा विवाद को सुलझाने के लिए गठित तंत्र में विशेष प्रतिनिधि है यह तंत्र सीमा पर गतिरोध के मौजूदा दौर में निष्क्रिय बना हुआ है दोनों देशों ने गतिरोध दूर करने के लिए अब तक 17 दौर की वार्ता की है वार्ता के बाद जारी एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक भारत चीन कोर कमांडर स्तर की सत्र भी दौर की बैठक 20 दिसंबर को हुई थी जिसमें दोनों पक्षों ने करीबी संपर्क बनाए रखने और सैनी एवं राजनयिक माध्यमों से वार्ता जारी रखने पर सहमति जताई है

फिलहाल यूक्रेन पर उसी हमले के बावजूद उन्होंने चीन रोज संबंधों के विकास के बारे में खुलकर बात की वांग ने कहा हमने रूस के साथ अच्छे पड़ोसी देश के रूप में मित्रता और सहयोग को गहरा किया है तथा चीन और रूस के बीच सामान्य की व्यापक रणनीतिक साझेदारी को और अधिक परिपक्व और लचीला बनाया है उन्होंने कहा पिछले 1 साल में चीन और रूस ने अपने अपने मूल हितों को बरकरार रखने में एक दूसरे का मजबूती से समर्थन किया है और इस दौरान हमारा आपसी राजनीतिक एवं रणनीतिक विश्वास और मजबूत हुआ है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here