चेस प्लेयर ने बिना हिजाब पहने खेला मैच तो फोन पर मिल रही धमकियों के कारण छोड़ा देश..

286
iran
iran

ईरान में महिला चैस प्लेयर को बिना हिजाब पहने मैच खेलने प्रदेश में वापस न लौटने का फरमान जारी हुआ है रिपोर्ट के मुताबिक इरानी शतरंज खिलाड़ी सारा खादिम अपने देश वापस न लौटने की चेतावनी मिलने के बाद स्टैंड पहुंची है देव ने ईरान में राष्ट्रव्यापी विरोध के बीच ताजिकिस्तान मैं अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में हिजाब के बिना ही मुकाबले में हिस्सा लिया था जिसे लेकर उन्हें धमकियां मिल रही है

ब्रिटिश चेस चैंपियनशिप में हिजाब के बिना हिस्सा लिया

दरअसल ईरान में महिलाओं के लिए सख्त ड्रेस कोड के तहत हिजाब पहनना अनिवार्य है इसके बावजूद सारा खादिम ने पिछले हफ्ते अल्माटी में भिड़े वर्ल्ड रैपिड एंड ब्रिटिश चेस चैंपियनशिप में हिजाब के बिना हिस्सा लिया अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ की वेबसाइट के अनुसार खादिम दुनिया में चैस प्लेयर की रैंक में 804 वे पायदान पर हैं वही मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सारा खादिम को कई फोन कॉल आए जिसमें उन्हें धमकी दी गई खादिम को टूर्नामेंट के बाद ईरान वापस नहीं लौटने की चेतावनी दी गई कॉल पर उनसे यह भी कहा गया कि अग्रवाल लौटी तो उसकी समस्या का समाधान कर देंगे इतना ही नहीं उनके पेरेंट्स और रिश्तेदारों तक को धमकी भरे कॉल आए

हिजाब नहीं पहनने के आरोप में हिरासत में लिया

फिलहाल सारा खादिम स्पेन में है धमकी मिलने के बाद उनके होटल के कमरे के बाहर बॉडीगार्ड तैनात किए गए हैं मालूम हो कि ईरान में जबरन हिजाब के खिलाफ बीते साल सितंबर से ही विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं यह प्रदर्शन 22 साल की महत्ता अमीनी की मेरिट पुलिस की हिरासत में हुई मौत के बाद शुरू हुए पुलिस ने उसे ठीक ढंग से हिजाब नहीं पहनने के आरोप में हिरासत में लिया था