CDS रावत के निधन पर रूस, पाकिस्तान समेत इन देशों ने जताया शोक, अमेरिका ने कहा- वे भारत-US रक्षा संबंधों के प्रबल समर्थक थे

299
CDS-general-Bipin-Rawat-us-russia-expresses-grief

अमेरिका, रूस और पाकिस्तान समेत कई देशों ने बुधवार को प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के निधन पर शोक व्यक्त किया. तमिलनाडु में कुन्नूर के पास बुधवार को जनरल रावत, उनकी पत्नी मधुलिका और 11 अन्य लोगों की एक हेलिकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो गई. इस बात की जानकारी वायुसेना ने दी. यहां अमेरिकी दूतावास ने रावत परिवार और दुर्भाग्यपूर्ण हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की. अमेरिकी दूतावास ने एक बयान में कहा कि भारत के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष के रूप में जनरल रावत ने भारतीय सेना में परिवर्तन के एक ऐतिहासिक दौर का नेतृत्व किया.

बयान में कहा गया है कि रावत, अमेरिका के एक जिगरी दोस्त और भागीदार थे, जिन्होंने अमेरिकी सेना के भारत के साथ बढ़ते रक्षा सहयोग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. दूतावास ने बयान में कहा, ‘सितंबर में उन्होंने अमेरिका की पांच दिवसीय यात्र के दौरान सैन्य विकास व समान विचारधारा वाले देशों के साथ हमारे सहयोग को बढ़ाने के अवसरों पर चर्चा की थी.’

बयान में कहा गया, ‘हमारी संवेदनाएं भारतीय लोगों और भारतीय सेना के साथ हैं और हम ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के पूरी तरह स्वस्थ होने की कामना करते हैं.’ ब्रिटिश उच्चायुक्त एलेक्स एलिस ने भी जनरल रावत के निधन पर शोक व्यक्त किया और उन्हें एक बुद्धिमान व्यक्ति व बहादुर सैनिक बताया. एलिस ने ट्वीट किया, ‘दुखद समाचार. जनरल रावत एक बुद्धिमान व्यक्ति, एक बहादुर सैनिक, एक अग्रणी शख्स और मेरे लिए एक उदार मेजबान थे. हम इस भयानक दुर्घटना में रावत सहित अन्य लोगों के जान गंवाने पर शोक व्यक्त करते हैं.’

रूस के राजदूत ने जताया शोक

भारत में रूस के राजदूत निकोलाए कुदाशेव ने कहा कि उन्हें हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जनरल बिपिन रावत, मधुलिका रावत और 11 अन्य अधिकारियों की आकस्मिक मृत्यु के बारे में पता चला. कुदाशेव ने कहा कि भारत ने अपना महान देशभक्त और समर्पित नायक खो दिया है.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘रूस ने एक बहुत करीबी दोस्त खो दिया है, जिसने हमारी विशेष द्विपक्षीय और विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी को बढ़ावा देने में बड़ी भूमिका निभाई है. अलविदा, दोस्त! अलविदा, कमांडर!’. भारत में ऑस्ट्रेलियाई उच्चायुक्त बैरी ओ’फेरेल ने भी जनरल रावत तथा अन्य मृतकों के परिजनों के प्रति सहानुभूति प्रकट की. उन्होंने कहा कि जनरल रावत के कार्यकाल में भारत-ऑस्ट्रेलिया के संबंध काफी फले-फूले हैं.

फ्रांस के दूत ने ट्वीट कर जताया दुख

भारत में फ्रांस के दूत एमेनुअल लेनिन ने ट्वीट किया, ‘सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और कई रक्षा अधिकारियों की एक दुर्घटना में मृत्यु से गहरा दुख हुआ. शोक संतप्त परिवारों और भारतीय सशस्त्र बलों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना.’ उन्होंने कहा, ‘हम CDS रावत को एक महान सैन्य नेता और फ्रांस-भारत रक्षा संबंधों के समर्थक के रूप में याद रखेंगे.’ पाकिस्तान के शीर्ष सैन्य अधिकारियों ने भी जनरल रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों की ‘दुखद मृत्यु’ पर शोक व्यक्त किया.

पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता ने ट्विटर पर पोस्ट किए गए एक संक्षिप्त बयान में कहा कि संयुक्त चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (सीजेसीएससी) के अध्यक्ष जनरल नदीम रजा और सेनाध्यक्ष (सीओएएस) जनरल कमर जावेद बाजवा ने संवेदना व्यक्त की है.