लगातार 3 दिन की बढ़त के बाद बाजार में आज सेंसेक्स 394 अंक और निफ्टी 96 अंक गिरकर बंद

162
FILE PHOTO

दुनियाभर की अर्थव्यस्थाओं में रिकवरी को लेकर अनिश्चितता बढ़ने के बाद विदेशी बाजारों में आई गिरावट का असर आज भारतीय शेयर बाजारों में भी दिखा है. कोरोना के मामलों में बढ़त जारी रहने की वजह से घरेलू अर्थव्यवस्था को लेकर भी निवेशकों के बीच अनिश्चितता बढ़ गई है. गुरुवार के कारोबार में सेंसेक्स 394 अंक की गिरावट के साथ 38220 के स्तर पर और निफ्टी 96 अंक की गिरावट के साथ 11312 के स्तर पर बंद हुआ.

अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक के कल ही जारी हुए कार्य विवरण के मुताबिक अधिकारियों ने अर्थव्यवस्था में किसी तेज रिकवरी को लेकर आशंका जताई है वहीं कल ही वर्ल्ड बैंक ने संकेत दिए हैं कि वो भारत की अर्थव्यवस्था में और गिरावट की आशंकाओं को देखते हुए अपने अनुमानों की समीक्षा कर सकता है. इन सभी संकेतों को देखते हुए घरेलू शेयर बाजारों में आज गिरावट देखने को मिली है. भारतीय बाजारों में पिछले तीन दिनों से बढ़त का रुख देखने को मिल रहा था. इन तीन दिनों में बाजार 700 अंक से ज्यादा बढ़ चुका है, यानि आज की गिरावट के बावजूद इस हफ्ते अभी तक बाजार बढ़त में ही बना हुआ है.

फेडरल रिजर्व की आशंका के बाद विदेशी बाजारों में आज गिरावट का रुख देखने को मिला है. सभी प्रमुख एशियाई बाजार गिरावट के साथ बंद हुए हैं। चीन का शंघाई कंपोजिट 1.3 फीसदी, हॉन्गकॉन्ग का हेंग सेंग 1.54 फीसदी, जापान का निक्केई 1 फीसदी और ताइवान का TSEC 50 इंडेक्स 3.26 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है. वहीं यूरोपियन मार्केट में भी शुरुआती गिरावट दर्ज हुई है. घरेलू शेयर बाजार के बंद होते वक्त इंग्लैंड, फ्रांस और जर्मनी के बाजार 1 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे थे.

निफ्टी में शामिल 35 स्टॉक आज गिरावट के साथ बंद हुए हैं। इसमें से 19 स्टॉक्स की गिरावट निफ्टी की आज दिन की गिरावट (0.84%) से भी ज्यादा रही। 4 स्टॉक्स 2 फीसदी से ज्यादा वहीं 17 स्टॉक्स 1 फीसदी से गिरकर बंद हुए. वहीं 8 स्टॉक 1 फीसदी से ज्यादा बढ़कर बंद हुए. आज के कारोबार में सबसे ज्यादा बढ़त वाले स्टॉक्स में एनटीपीसी (6.87%), ओएनजीसी (3.33%), पावरग्रिड (2.59%) शामिल रहे। वहीं गिरने वाले स्टॉक्स में टाटा मोटर्स (-2.64%), एचडीएफसी (-2.28%) और एक्सिस बैंक (2.16%) सबसे ज्यादा नुकसान में रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here