ढाई साल में ताश के पत्तों की तरह ढह जाएगी सरकार’, सिद्दरमैया के आरोपों पर बीजेपी का पलटवार..

104

शपथ लेने के तुरंत बाद, कर्नाटक में सिद्दरमैया के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में पार्टी द्वारा किए गए वादे को लागू करने का आदेश दे दिया है। इसके साथ ही, राज्य के वित्तीय घाटे के लिए केंद्र को दोषी ठहराया, क्योंकि 15वें वित्त आयोग के 5,495 करोड़ रुपये का विशेष अनुदान राज्य को नहीं दिया गया था।

डीके शिवकुमार बने डिप्टी सीएम

डीके शिवकुमार ने कर्नाटक के एकमात्र उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। कई दिनों तक पार्टी ने मुख्यमंत्री पद के चेहरे पर विचार किया, जिसके बाद यह फैसला लिया है। दरअसल, राज्य में पार्टी ने शानदार जीत दर्ज की है।

आठ विधायकों ने ली कैबिनेट मंत्री पद की शपथ

मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के साथ, आठ अन्य विधायकों ने भी कर्नाटक कैबिनेट में मंत्रियों के रूप में शपथ ली। आठ विधायकों में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे प्रियांक खड़गे, पार्टी के विधायक जी परमेश्वर और एमबी पाटिल शामिल हैं। शपथ लेने वाले अन्य विधायकों में केएच मुनियप्पा, केजे जॉर्ज, सतीश जारकीहोली, रामलिंगा रेड्डी और बीजेड जमीर अहमद खान शामिल हैं।