यूपी-उत्तराखंड समेत नौ राज्यों के पोल्ट्री फार्मों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, राष्ट्रीय खाद्य प्राधिकरण का दावा, चिकन-अंडे को अच्छी तरह से पका कर खाने में खतरा नहीं

    290
    Bird-Flu-cases-in-India

    केंद्र सरकार ने शनिवार को कहा कि देश के 9 राज्यों के पोल्टी फार्मों की पालतू मुर्गियों में बर्ड फ्लू फैलने की पुष्टि हो चुकी है। इन राज्यों में उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, केरल, गुजरात और छत्तीसगढ़ शामिल हैं। इसके अलावा जंगली पक्षियों में करीब 12 राज्यों में इस जानलेवा महामारी के फैलने की पुष्टि हो चुकी है।

    केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन व डेयरी मंत्रालय के मुताबिक, कौओं, प्रवासी व जंगली चिड़ियाओं में एवियन इंफ्लूएंजा (बर्ड फ्लू) की पुष्टि वाले 12 राज्यों में मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, राजस्थान, पंजाब और जम्मू-कश्मीर शामिल हैं।

    मंत्रालय ने कहा कि महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब, उत्तर प्रदेश, गुजरात, उत्तराखंड और केरल के प्रभावित क्षेत्रों में नियंत्रण व रोकथाम की कार्रवाई की जा रही है। जिन किसानों की मुर्गियों, अंडों और पोल्ट्री चारे को राज्य सरकारों ने रोकथाम की कार्रवाई के तहत नष्ट कराया है, उन्हें क्षतिपूर्ति भुगतान किया जा रहा है।

    मंत्रालय के मुताबिक, उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग, लैंसडौन और पौड़ी वन क्षेत्र से मिले कौओं और कबूतरों के नमूने निगेटिव पाए गए हैं। इसी तरह राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के कबूतरों और उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के मोर के नमूने भी निगेटिव पाए गए हैं यानी इनमें बर्ड फ्लू नहीं मिला है।