भगवंत मान बने पंजाब के 17वें मुखमंत्री, अरविन्द केजरीवाल समेत कई नेता और मंत्री रहे मौजूद

179
Bhagwant Mann sworn as new Punjab CM

पंजाब की राजनीति में आज से नया अध्याय शुरू हो चुका है. भगवंत मान ने पंजाब के 17वें मुख्यमंत्री पद के तौर पर स्वतंत्रता सेनानी शहीद भगत सिंह के गांव खटकड़ कलां में शपथ ली. राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने सीएम पद की शपथ दिलाई. इसके बाद भगवंत मान ने राज्य की जनता का आभार जताया. उन्होंने कहा कि जो लड़ाई भगत सिंह ने लड़ी वही लड़ाई आम आदमी पार्टी लड़ रही है. सीएम मान ने कहा कि आंदोलन से खड़ी हुई पार्टी देश में बदलाव ला रही है. उन्होंने कहा कि पंजाब में स्कूल और कॉलेजों का स्तर सुधारेंगे. दिल्ली की तर्ज पर पंजाब का विकास करेंगे. 

इस मौके पर आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संजोयक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद हैं. साथ ही, लाखों की संख्या में यहां पर लोग पहुंचे हुए हैं. शपथ ग्रहण से ठीक पहले भगवंत मान ने ट्वीट किया है- ”सूरज की सुनहरी किरण आज एक नया सवेरा लेकर आई है. शहीद भगत सिंह और बाबा साहब के सपनों को साकार करने के लिए आज पूरा पंजाब खटकड़ कलां में शपथ लेगा. शहीद भगत सिंह जी की सोच पर पहरा देने के लिए मैं उनके पैतृक गांव खटकड़ कलां के लिए रवाना हो रहा हूं.”

भगवंत मान के सीएम पद की शपथ लेने से पहले आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा है- ”आज पंजाब के लिए बहुत बड़ा दिन है. नई उम्मीद की इस सुनहरी सुबह में आज पूरा पंजाब इकठ्ठा होकर एक खुशहाल पंजाब बनाने की शपथ लेगा. उस ऐतिहासिक पल का साक्षी बनने के लिए मैं भी शहीद भगत सिंह के पैतृक गांव खटकड़ कलां के लिए रवाना हो गया हूं.”

इससे पहले, शपथ ग्रहण समारोह को लेकर व्यापक इंतजाम किए गए थे. भगवंत मान ने अभी अकेले ही शपथ ग्रहण किया है. ऐसा माना जा रहा है कि पंजाब मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री समेत 18 मंत्री हो सकते हैं. हालिया नतीजों में पंजाब विधानसभा की 117 सीटों में से आप ने 92 सीटों पर जीत दर्ज की है. पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने से पहले भगवंत मान ने राज्य के लोगों को शपथग्रहण समारोह में शामिल होने का न्यौता दिया था.

अधिकारियों ने कहा कि समारोह के लिए पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए गए और कार्यक्रम के दौरान पुलिस महानिरीक्षक तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की तैनाती की गई. उन्होंने कहा कि समारोह के लिए करीब 8,000 से 10,000 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया. जिला प्रशासन ने शपथ ग्रहण समारोह के चलते भारी भीड़ जुटने की संभावना को देखते हुए 16 मार्च को विद्यालयों में अवकाश की घोषणा की.