अनुप्रिया पटेल बोली- ओबीसी वर्ग को आरक्षण मिलने के बाद ही होंगे नगरीय निकाय चुनाव..

174
anupriya
anupriya

अपना दल ने लखनऊ स्थित कैंप कार्यालय पर केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल की अगुवाई में मासिक बैठक की इस बैठक में प्रदेश भर से अपना दल के कार्यकर्ताओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

प्रदेश सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन किया

दरअसल निकाय चुनाव से पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा ओबीसी रिजर्वेशन को रद्द किए जाने मसले पर अनुप्रिया पटेल ने कहा कि आरक्षण रद्द होने के बाद तत्काल बिना विलंब किए प्रदेश सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन किया और उसकी पहली बैठक भी संपन्न हो गई है जिसमें पिछड़ों की स्थिति और उनकी संख्या का आकलन किया जा रहा है इसमें हो सकता है कि समय लगे लेकिन हमारी एनडीए सरकार और अपना दल का भी स्पष्ट मत है कि पिछड़ों का आरक्षण तय करने के उपरांत ही नगर निकाय चुनाव कराए जाएं अगर सरकार कोर्ट में सही से तैयारी करके पैरवी की होती तो जोया आयोग का गठन कर रही है ट्रिपल टेस्ट करा रही है तो या ना करना पड़ता और फैसला कुछ और आता है इस सवाल पर जवाब देते हुए अनुप्रिया कहती हैं कि जातीय जनगणना से जुड़े सवाल पर अनुप्रिया ने कहा कि जाति जनगणना 2021 में होनी चाहिए थी जिसमें अभी थोड़ा विलंब हो रहा है जाति जनगणना जरूरी होनी चाहिए ताकि पता चले कि हमारे देश के अंदर सामाजिक ढांचे में जो विभिन्न विभिन्न जाति समुदाय के लोग रहते हैं उनकी संख्या के आंकड़े हैं और सामाजिक दृष्टि से उनकी क्या तस्वीर है वह सभी के सही आंकड़े के तौर पर निकल कर आनी चाहिए।

फिलहाल कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर अनुप्रिया ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा जो है वह इसलिए की जा रही है क्योंकि संगठन की बहुत ही बुरी स्थिति है तो ऐसे में पार्टी तो ऐसा करेगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जो लोकप्रियता है जिसमें गरीबों के कल्याण के लिए जो योजनाएं हैं वह आम व्यक्ति तक पहुंची है तो इस पर कोई अभी प्रश्नचिन्ह नहीं है कि आने वाले 2024 के चुनाव में भी एनडीए की सरकार बनेगी और वह भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हैं