अखिलेश यादव ने सूबे की सरकार को घेरते हुए पूछा की कितने लोगों को मिला रोजगार..

121
AK
AK

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर योगी सरकार पर हमला बोल दिया है। अखिलेश यादव ने के प्रदेश में निवेश के दावों को लेकर योगी सरकार को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है। अखिलेश यादव ने गुरुवार को युवा दिवस के मौके पर प्रेस कांफ्रेंस कर सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के संघर्षों पर आधारित कैलेंडर का विमोचन किया। उन्होंने कहा कि आज के दिन नेताजी के काम और संघर्ष को याद किया गया। अखिलेश ने कहा कि युवा दिवस पर सभी युवा संकल्प लें कि नफरत की राजनीति खत्म हो क्योंकि तभी तरक्की संभव है।

इंवेस्टर्स समिट केवल चुनाव की तैयारी

दरअसल अखिलेश ने सूबे की सरकार को घेरते हुए कहा की, सरकार को ये भी बताना चाहिए कि पहले निवेश के लिए जो एमओयू साइन हुए थे, उनमें से कितना निवेश जमीन पर उतरा और कितने लोगों को रोजगार मिला। उन्होंने कहा कि ये इंवेस्टर्स समिट केवल चुनाव की तैयारी है। अखिलेश यादव ने कहा कि गंगा नदी की सफाई के लिए सरकार ने बड़े-बड़े वादे किए थे। गंगा तो साफ नहीं हुई पर इसके लिए आवंटित किया गया हजारों करोड़ साफ हो गया। उन्होंने कहा की, हमने गोमती नदी साफ की सरकार ने इसे भी बर्बाद कर दिया। यहां पर नाव लाई गई पर इसे दूसरी जगह भेज दिया गया। निकाय चुनाव में ओबीसी आरक्षण को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि हमें कोर्ट पर पूरा भरोसा है योगी सरकार के बनाए हुए आयोग पर नहीं।

फ़िलहाल सपा प्रमुख अखिलेश ने गंगा विलास क्रूज को उद्योगपतियों का क्रूज बताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा की धार्मिक स्थलों को पर्यटन स्थल बनाकर पैसे कमाने की नीति निंदनीय है।