अखिलेश ने कसा योगी सरकार पर तंज कहा- कागज पर छपी मोमबत्ती दिखाने से उजाला नहीं होता.”

77

यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार प्रदेश में निवेश लाने का प्रयास कर रही है. प्रदेश में रोजगार और निवेश बढ़ाने के लक्ष्य के साथ योगी सरकार फरवरी 2023 में ‘ग्लोबल इन्वेस्टर समिट’ का आयोजन भी कर रही है. इस समिट में भाग लेने के लिए कई देशों को आमंत्रित किया गया है. योगी सरकार का लक्ष्य है कि इस समिट के माध्यम से 10 लाख करोड़ का निवेश उत्तर प्रदेश में लाया जाए. मगर इस बीच निवेश के मुद्दे पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर तंज कसा है.

अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “दिखावटी निवेश से उप्र का विकास नहीं होगा…कागज पर छपी मोमबत्ती दिखाने से उजाला नहीं होता.”

विदेशी दौरे पर है यूपी के मंत्री

उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी भी इस समय विदेशी दौरे पर हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, उनके साथ योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री जितिन प्रसाद भी हैं. बताया जा रहा है कि ये प्रतिनिधिमंडल कंपनियों को निवेश के लिए आमंत्रित कर रहा है और निवेश की संभावनाएं भी तलाश रहा है.

इन देशों को किया गया आमंत्रित

जानकारी के लिए बता दें कि ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के लिए योगी सरकार ने, UAE, जापान, जर्मनी, थाईलैंड, मैक्सिको, साउथ अफ्रीका, ब्राजील, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, नीदरलैंड, बेल्जियम, कनाडा को आमंत्रित किया है. इसके लिए इन देशों के औद्यौगिक विकास मंत्रियों को GIS के लिए न्योता भेजा गया है.

फ़िलहाल ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट को सफल बनाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार 19 देशों के 21 शहरों में रोड शो भी करेगी. बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समेत अन्य विभागों के मंत्री और अधिकारी भी अलग-अलग देशों के दौरे पर जाएंगे. सीएम योगी अमेरिका में होने वाले रोड शो का प्रतिनिधित्व करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here