चीन मे 5 महीने पहले ठीक हुई महिला को दोबारा हुआ कोरोना

258

चीन में एक महिला 5 महीने बाद दोबारा कोरोना संक्रमण का शिकार हो गई जबकि 5 महीने पहले उसे इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया था. 68 साल की इस महिला की यह घटना सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग सकते में आ गया है कि कोरोना मरीजों में यह बीमारी कहीं फिर से लौटना शुरू न कर दे. ऐसा कहा जाता था कि कोरोना मरीज में एंटीबॉडी बनने के बाद दोबारा उसे संक्रमण नहीं होता लेकिन यह घटना नए संकट की ओर इशारा कर रही है.

मध्य चीन के हुबेई प्रांत की इस महिला को कोरोना का संक्रमण होने के बाद जिंगझाउ के अस्पताल में दाखिल कराया गया था. चीनी सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक फरवरी में महिला कोरोना संक्रमित हुई थी जिसके बाद उसे एक स्थानीय अस्पताल में दाखिल कराया गया था. बाद में वह ठीक होकर घर लौट गई थी.

कोरोना के इस मामले के बारे में एक वायरोलॉजिस्ट ने ग्लोबल टाइम्स से कहा, इस केस से पता चलता है कि मानव शरीर से वायरस के निकलने में लंबा वक्त लगता है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग ठीक होने के बाद दोबारा कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं उनमें संक्रमण नहीं देखा जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 9 अगस्त को उस महिला को कोरोना का संक्रमण हुआ था. फिलहाल उसे क्वारनटीन में रखा गया है. उसके संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट निगेटिव है.

ग्लोबल टाइम्स को वुहान यूनिवर्सिटी के पैथोजेन बॉयोलॉजी डिपार्टमेंट के डिप्टी डायरेक्टर यांग झांगक्यू ने बताया कि इस केस से पता चलता है कि मानव शरीर से पूरी तरह दूर होने में कोरोना वायरस काफी लंबा वक्त ले सकता है. जिस महिला को दोबारा संक्रमण हुआ है उसके शरीर में वायरस की मात्रा कम थी इसलिए उसका टेस्ट पहले निगेटिव आया था. ‘साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट’ ने भी एक रिपोर्ट में बताया है कि चीन में कई ऐसे लोग हैं जिनमें दोबारा कोरोना संक्रमण का पता चला है.