अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की हत्या की साजिश रचने वाला 19 साल का साई वार्षिठ कंडूला गिरफ्तार!

225

भारतीय मूल का एक शख्स जो बाइडेन की “हत्या” करके अमेरिकी की ‘सत्ता कब्जाना’ चाहता है. 19 वर्षीय शख्स ने सोमवार रात व्हाइट हाउस में परिसर में ट्रक लेकर घुसने की कोशिश की थी. वह इसमें नाकाम रहा. उसने व्हाइट हाउस की कुछ दूरी पर स्थित बैरियर में टक्कर मारी. अमेरिकी पुलिस ने जब उसे पकड़ा और पूछताछ की तो उसकी मंशा का खुलासा हुआ. उसने कहा कि वह जो बाइडेन की “हत्या” करके सत्ता पर कब्जा करना चाहता था.

अमेरिकी पुलिस के मुताबिक आरोपी शख्स की पहचान साईं वार्षिठ कंडूला के रूप में हुई है. यूएस पार्क पुलिस ने बताया कि शख्स ने ट्रक को व्हाइट हाउस के सिक्योरिटी बैरियर में टक्कर मारी. रात के समय वह ट्रक लेकर निकला और व्हाइट हाउस के उत्तर में स्थित लफायते पार्क के पास सिक्योरिटी बैरियर में ट्रक घुसाने की कोशिश की. व्हाइट हाउस बिल्डिंग से सिक्योरिटी बैरियर की अच्छी-खासी दूरी है. इसमें कोई घायल नहीं हुआ. आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है. सोशल मीडिया पर ट्रक के एक्सीडेंट का वीडियो देखा जा सकता है.

6 महीने की प्लानिंग, बनाता हत्या का नोट

अमेरिकी पुलिस की मानें तो आरोपी साई वार्षिठ जो बाइडेन की हत्या की 6 महीने से प्लानिंग कर रहा था. इतना ही नहीं अपनी पूरी प्लानिंग के लिए उसने एक नोटबुक भी तैयार की थी. उसकी प्लानिंग थी कि वह व्हाइट हाउस में घुसेगा, सत्ता पर कब्जा करेगा और खुदको देश का इंचार्ज घोषित कर देगा. पूछे जाने पर कि वह ऐसा कैसे करता, आरोपी ने बताया कि “अगर जरूरत पड़ती तो राष्ट्रपति को मार देता और बीच में आने वाले किसी की भी हत्या कर सकता था.” आरोपी के पास से नाजी फ्लैग भी बरामद किया गया है.

व्हाइट हाउस के सिक्योरिटी बैरियर में ट्रक से मारी टक्कर

एक सीक्रेट सर्विस एजेंट ने बताया कि वह सेंट लुइस से डलेस अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा वन-वे टिकट पर पहुंचा था. बाद में उसने एक ट्रक किराए पर लिया. आरोपी ने व्हाइट हाउस के किनारे फूटपाथ पर ट्रक चला रहा था. व्हाइट हाउस के पास सुरक्षा के लिहाज से लोहे के बैरियर लगे हैं. आरोपी साईं वार्षिठ ने ट्रक को रिवर्स किया और बैरियर में तेज रफ्तार के साथ टक्कर मारी. उसने दोबारा भी ऐसा ही किया. मौके पर पहुंची पुलिस ने बाद में उसे हिरासत में ले लिया. सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने के लिए उसपर 1000 डॉलर का जुर्माना लगाया गया है.