स्वीडन में घोर दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं ने कुरान की प्रति जलाई, दंगे भड़केनफरत फैलाने के आरोप में 3 अरेस्ट

623

स्वीडन के दक्षिणी शहर माल्मो में शुक्रवार को कुछ दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं ने एक धार्मिक पुस्तक जला दी, जिसके बाद हिंसा भड़क उठी. सैकड़ों लोग सड़कों पर उतर आए. नारेबाजी के बीच प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों और बचाव दल के कर्मियों पर पत्थर फेंके. सड़कों पर टायर जलाए गए और जाम लगाने की कोशिश की गई. इस दौरान 15 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया.

टीटी न्यूज एजेंसी के मुताबिक धार्मिक पुस्तक जलाए जाने की घटना के बाद शुक्रवार शाम को अचानक कुछ लोगों की भीड़ जमा हो गई. टायर आदि जलाने से शहर के एक इलाके में धुआं फैल गया. पत्थरबाजी में कुछ लोगों को चोटें भी आईं. हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

इस घटना के बाद एक जातीय समूह के खिलाफ नफरत भड़काने के संदेह में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया. यूनाइटेड नेशन अलाइंस ऑफ सिविलाइजेशन के प्रमुख ने इस घटना की निंदा की है. यूनाइटेड नेशन अलाइंस ऑफ सिविलाइजेशन के प्रवक्ता ने कहा कि चरमपंथियों द्वारा किसी धार्मिक पुस्तक को जलाने की घटना निंदनीय है.

यूनाइटेड नेशन अलाइंस ऑफ सिविलाइजेशन के प्रवक्ता निहाल साद ने बताया कि मिगुएल मोरातिनोस ने सभी धर्मों के धर्मगुरुओं को धार्मिक विश्वास के आधार पर इस तरह की हिंसा की निंदा करने का आह्वान किया है. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाएं समुदायों के बीच बैर को बढ़ावा देती हैं. यह यूएन के मूल्यों के खिलाफ है जो अंतर-धार्मिक रिश्तों को मजबूत बनाने का काम करता है.