सोनू सूद एक बार फिर गरीब बच्चों की मदद के लिए आए आगे , पढ़ाई के लिए देंगे स्कॉलरशिप

705

लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों के मसीहा बनकर बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद सामने आए। वह अब तक हजारों लोगों को उनके घर पहुंचा चुके हैं। सिर्फ देश नहीं बल्कि विदेशों में भी फंसे लोगों को सोनू सूद अपने वतन वापिस लेकर आए हैं। गणेश उत्सव से पहले प्रवासी मजदूरों को सोनू सूद ने उनके घर भेजा था ताकि वह अपने परिवार के साथ त्यौहार मना सकें। अब सोनू सूद ने बच्चों की पढ़ाई के लिए भी एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक सोनू सूद पढ़ाई से वंचित बच्चों को स्कॉलरशिप देंगे ताकि उनकी शिक्षा में किसी तरह की कमी ना हो।

कोरोना वायरस के चलते पढ़ाई अब ऑनलाइन क्लास के जरिए हो रही है। लेकिन बहुत से ऐसे स्टूडेंट भी हैं जिनके पास फीस भरने के लिए पैसे नहीं या ऑनलाइन क्लासेस अटेंड करने के लिए साधन नहीं हैं। इसके लिए सोनू सूद ने अपनी मां के नाम पर स्कॉलरशिप प्रोग्राम शुरू किया है। जो शिक्षा से वंचित बच्चों को दी जाएगी।

सोनू सूद ने कहा- बीते कुछ महीनों से मैं देख रहा था कि गरीब लोगों के पास अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए पैसे नहीं थे। जहां किसी के पास फोन नहीं था कि वह ऑनलाइन क्लास अटेंड कर सके तो वहीं कुछ के पास फीस भरने के पैसे नहीं थे। तो मैंने देशभर में कई यूनिवर्सिटी के साथ टाईअप करके अपनी मां प्रोफेसर सरोज सूद के नाम पर स्कॉलरशिप शुरु की है। वह मोगा में बच्चों को फ्री में पढ़ाती थीं। उन्होंने मुझे कहा था मेरे काम को आगे ले जाना और मुझे लगता है यह सही समय है।

यह स्कॉलरशिप मेडिसिन, इंजिनियरिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक एंड ऑटोमेशन, साइबर सिक्योरिटी, डाटा साइन्स, फैशन, जर्नलिज्म और बिजनेस स्टडीज जैसे कई कोर्स के लिए होगी। जिन बच्चों के परिवार की आय साल में 2 लाख से कम है वह इस स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए सिर्फ एक कंडीशन होगी, बच्चे का पढ़ाई का रिकॉर्ड अच्छा होना चाहिए। कोर्स फीस, हॉस्टल और खाने से लेकर हर चीज की देखभाल हम करेंगे।