शिवराज सिंह चौहान का कांग्रेस पर बड़ा हमला , कहा- कमल नाथ ने किसानों के साथ धोखाधड़ी की

    181

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने आरोप लगाया कि 15 माह की कांग्रेस सरकार में कमल नाथ ने मध्य प्रदेश का सत्यानाश कर दिया। भाजपा से बदला लेने के लिए हमारी जनहित में चलाई गई योजनाओं को बंद कर दिया। शिवराज ने कहा कि कमल नाथ ने जनता ही नहीं विकास चाहने वाले विधायकों के साथ भी गद्दारी की। उन्‍होंने कर्जमाफी के नाम पर किसानों के साथ धोखाधड़ी की…

    शिवराज सिंह चौहान खंडवा के मूंदी और बुरहानपुर के ग्राम धूलकोट में पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि जो जनता की समस्या और जरूरतों को पूरा नहीं कर सके उसे मुख्यमंत्री बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। कमल नाथ के विकास विरोधी रवैये का ही नतीजा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की टीम समेत मांधाता के पूर्व विधायक नारायण पटेल को कांग्रेस छोड़नी पड़ी।

    शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कर्जमाफी के नाम पर कमलनाथ ने किसानों के साथ धोखाधड़ी की है। मुख्यमंत्री खंडवा की मांधाता विधानसभा सीट और बुरहानपुर की नेपानगर सीट के लिए पार्टी का प्रचार करने आए थे। बुरहानपुर में मुख्यमंत्री ने वादा किया कि जिन पात्र लोगों को अब तक वनाधिकार पट्टे नहीं मिल पाए हैं, उन्हें जल्द पट्टे दिए जाएंगे। साथ ही अब इन पट्टाधारियों को प्रदेश सरकार किसान कल्याण निधि के सालाना चार हजार रुपए भी देगी। प्रधानमंत्री से भी आग्रह किया जाएगा कि किसान सम्मान निधि में इन्हें शामिल किया जाए।

    शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कमल नाथ सरकार जनता के साथ अन्याय और अत्याचार कर रही थी। कर्जमाफी, बेरोजगारी भत्ता, कन्यादान योजना में 51 हजार रुपये जैसे कई झूठे वादे जनता से किए थे। कमल नाथ ने तो हमारी बहनों के लड्डू के पैसे तक छीन लिए थे। संबल योजना बंद कर गरीबों को मिलने वाले कई तरह के लाभ छीन लिए थे।