भारत-अमेरिका-इस्राइल 5G पर साथ काम कर रहे, भविष्य की तकनीक और विकास क्षेत्र में बढ़ेगा सहयोग

455

भविष्य की तकनीक और विकास के क्षेत्र में भारत, अमेरिका और इस्राइल ने सहयोग शुरू कर दिया है। इस सिलसिले में एक पारदर्शी, टिकाऊ और सुरक्षित 5-जी नेटवर्क तैयार करना भी शामिल है। अमेरिका की अंतरराष्ट्रीय विकास संबंधी शीर्ष एजेंसी यूएसएआईडी की उच्च अधिकारी बॉनी ग्लिक ने यह जानकारी दी है

यूएसएआईडी की उप प्रशासक बॉनी ग्लिक ने बताया कि इस तकनीक पर शोध तीनों देशों के तीन टेक्नोलॉजी हब बेंगलुरु, सिलिकॉन वैली और तेल अवीव शहरों में होगी। ये तीनों देश नहीं चाहते हैं कि चीन की कंपनियां इस मामले में विस्तार करें और उन्हें पिछड़ना पड़े। ग्लिक ने कहा, हम अगली पीढ़ी की तकनीक पर मिलकर काम कर रहे हैं और इसके बेहतरीन नतीजे सामने आएंगे। इस पर पिछले सप्ताह भारत, अमेरिका और इस्राइल की बेहद अहम बैठक भी हो चुकी है।

इस वर्चुअल बैठक में भारत और इस्राइल के राजदूत भी शामिल हुए। बता दें कि चीन को रोकने के मकसद से दो माह पूर्व ही अमेरिका ने ब्राजील से स्पष्ट तौर पर कहा था कि वह 5-जी नेटवर्क का ठेका चीनी कंपनी हुवावे को न दे।