भारतीय फुटबाल टीम के पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया ने कहा , देश के खिलाड़ियों को बहार खेलना चाहिए

588

भारतीय फुटबाल टीम के पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया ने देश के खिलाड़ियों पर बाहर खेलने पर जोर दिया है और युवा खिलाड़ियों को सलाह दी है कि अगर विदेशी क्लबों में खेलना जोखिम है तो यह उन्हे लेना चाहिए।

भूटिया ने एआईएफएफ डॉट टीवी से बात करते हुए कहा, “मैं देश के युवा खिलाड़ियों को सलाह दूंगा कि वह जोखिम लें और विदेशी क्लबों में खेलें। आपको बलिदान देना होगा और हो सकता है कि आपको उतना पैसा नहीं मिले जितना भारत के शीर्ष खिलाड़ियों को मिलता है। एक बार जब आप 25-26 साल के हो जाते हो तो आप वित्तीय पहलू को देख सकते हो।”

उन्होंने कहा, “हमारे खिलाड़ियों को यूरोप की शीर्ष लीगों में खेलने की जरूरत नहीं है। वह लोग चीन, जापान, कोरिया कतर, संयुक्त अरब अमीरात जैसे एशियाई देशों में खेल सकते हैं। साथ ही बेल्जियम जैसे देशों में भी खेल सकते हैं।”

उन्होंने कहा, “विदेशों में खेलने से आप काफी कुछ सीखते हैं। तकनीक रूप से नहीं तो आपको पता चलता है कि पेशेवर फुटबाल क्या है और फुटबाल किस तरह से काम करती है। एक खिलाड़ी के तौर पर आप ज्यादा सीखते हैं और सुधार करते हैं। मेरा बरी एफसी के साथ अनुभव अच्छा रहा था। इससे मुझे पता चला कि मैं किस तरह का खिलाड़ी हूं।”