पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का सवाल , अब तक NDA के साथ क्यों है शिरोमणि अकाली दल?

659

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कृषि बिलों के मुद्दे पर शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद भी पार्टी के राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का हिस्सा बने रहने पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने शिरोमणि अकाली दल के NDA का हिस्सा बने रहने पर सवाल खड़ा करते हुए शनिवार को पूछा कि SAD भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली NDA सरकार में रहने के दौरान पिछले 6 साल में ‘किसानों के हित में की गई उसकी एक पहल’ के बारे में बताए?

‘कृषि विधेयकों पर झूठ बोल रहे हैं बादल’

शिरोमणि अकाली दल के शीर्ष नेतृत्व पर कृषि विधेयकों के संबंध में पिछले कुछ दिनों से ‘झूठ’ बोलने का आरोप लगाते हुए सिंह ने कहा कि SAD ने ये अध्यादेश लाए जाने के बाद से ही ‘खुलेआम और बेहद बेशर्मी के साथ इसका समर्थन’ किया था। मुख्यमंत्री ने चंडीगढ़ में दिए एक बयान में कहा कि SAD के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल कृषि विधेयकों को लेकर झूठ बोल रहे हैं जोकि पूरी तरह सामने आ चुका है। मुख्यमंत्री ने बादल से पूछा, ‘क्या आपमें से किसी ने लोकसभा में पेश किए जाने से पहले तक अध्यादेशों को किसान विरोधी कहा था?’

‘अकाली दल अब तक एनडीए का हिस्सा क्यों है?’
सूबे के सीएम अमरिंदर सिंह ने सुखबीर सिंह बादल से पूछा, ‘क्या हरसिमरत ने एक बार भी, इस्तीफा देने तक, किसानों को बताया कि वह उनकी चिंताओं को दूर करने के लिए केंद्र सरकार को मनाने की कोशिश कर रही थीं, जैसा कि अब वह दावा कर रही हैं?’ अकाली दल के NDA का हिस्सा बने रहने पर सवाल उठाते हुए सिंह ने पूछा, ‘हरसिमरत के यह मानने के बाद कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार उनके द्वारा जताई गई चिंताओं के बावजूद किसानों की समस्याओं को दूर करने में नाकाम रहीं, फिर भी अकाली दल अब तक एनडीए का हिस्सा क्यों बना हुआ है?’