जम्मू-कश्मीर: घाटी में सेना का ताबड़तोड़ ऑपरेशन, 24 घंटे में सुरक्षाबलों ने 9 दहशतगर्दों का सफाया

    610
    Pulwama Encounter

    जम्मू-कश्मीर पुलिस और भारतीय सेना के जवानों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया है. पुलिस ने शुक्रवार सुबह बताया कि गुरुवार रात से चल रहे एनकाउंटर में यह आतंकवादी मारे गए हैं. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों में से एक की पहचान सुहैल अहमद रैदर के रूप में हुई है. सुहैल अहमद आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद से जुड़ा आतंकी था. मारे गए अन्य आतंकवादियों की पहचान की जा रही है. उन्होंने बताया कि एनकाउंटर स्थल से हथियार और गोला-बारूद के साथ अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है.

    कश्मीर पुलिस के इंस्पेक्टर जनरल विजय कुमार ने कहा, ‘मारे गए आतंकवादियों में से आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े एक आतंकवादी सुहैल अहमद रैदर की पहचान हो चुकी है. दो अन्य अज्ञात आतंकवादियों की पहचान अभी नहीं हो पाई है. इन सभी को श्रीनगर में गुरुवार देर रात से चल रही मुठभेड़ में सुरक्षा ने मार गिराया है.’ उन्होंने बताया कि एनकाउंटर स्थल से हथियार और गोला-बारूद के साथ आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है.

    कश्मीर जोन की पुलिस ने ट्विटर के जरिए जानकारी दी, जिसमें आईजी विजय कुमार ने गुरुवार को बताया था कि आतंकवादी सुहैल अहमद जेवान आतंकी घटना में शामिल था. अब जेवान आतंकवादी घटना में शामिल सभी आतंकियों को मार गिराया गया है.

    इस एनकाउंटर से संबंध में जानकारी रखने वाले लोगों ने बताया कि तीन पुलिसकर्मी और सीआरपीएफ का एक जवान आतंकवादियों के खिलाफ श्रीनगर के पंथा चौर के पास हुए इस कार्रवाई के दौरान घायल हो गए हैं. पिछले 24 घंटे में आतंकवादियों के खिलाफ चले अभियान के तहत राज्य में अब तक 9 आतंकवादियों को मौत के घाट उतार दिया गया है.

    15 कॉर्प के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने शुक्रवार को बताया कि इस साल सीमा पार से घुसपैठ की कोशिशों में कमी आई है. साथ ही उन्होंने बताया कि आतंकवादी संगठन 15-16 साल से युवाओं को संगठन में भर्ती करके आतंकवादी बनाने की कोशिश कर रहे हैं. आईजी विजय कुमार ने गुरुवार को बताया था कि घाटी में एक्टिव आतंकवादियों की संख्या अब घटकर 200 से कम रह गई है. साथ ही उन्होंने बताया कि इतिहास में पहली बार स्थानीय आतंकवादियों की संख्या भी 100 से कम है.