कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते भारतीय कंपनियों ने 2020 में इक्विटी कैपिटल में रिकॉर्ड दर्ज किया 31 बिलियन डॉलर से अधिक जुटाए हैं।

334

भारतीय कंपनियों ने 2020 में इक्विटी कैपिटल में रिकॉर्ड 31 बिलियन डॉलर जुटाए हैं, Refinitiv data में यह जानकारी सामने आई है। बैंक भविष्य की आर्थिक अनिश्चितता को देखते हुए अपनी बैलेंस शीट को मजबूत करने के लिए कदम उठा रहे हैं।

कॉरपोरेट सलाहकारों ने बताया था कि 2020 में रियल एस्टेट कंपनी बाजार में सबसे तेज गति से आगे बढ़ेगी, क्योंकि कोरोना वायरस संकट के कारण उपजे आर्थिक संकट के बाद संपत्ति की मांग में जबरदस्त तेजी आने की उम्मीद है।

भारत के सिटीग्रुप के बैंकिंग और पूंजी बाजार के प्रमुख रवि कपूर ने कहा कि हमें उम्मीद है कि आने वाले हफ्तों और महीनों में पूंजी के विकास में विस्तार की उम्मीद है। Refinitiv data के मुताबिक, बता दें कि विदेशी निवेशक भारतीय इक्विटी खरीदने में तेजी रूचि दिखा रहे हैं, भारत के बाहर के निवेशकों ने तीन महीनों में, अगस्त में 10.3 अरब डॉलर के नए शेयर खरीदे हैं।