कंगना विवाद में कांग्रेस नेता उदित राज का विवादित बयान ,कहा ‘नशेड़ी से मिले राज्यपाल’

598

महाराष्ट्र सरकार और फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के विवाद में अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता उदित राज की भी एंट्री हो गई है। उदित राज ने कंगना को ‘नशेड़ी’ कहकर संबोधित किया है। बता दें कि कांग्रेस ने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं को कंगना मामले में बयानबाजी से परहेज करने की हिदायत दी थी। हालांकि इसके बावजूद पार्टी के नेता उदित राज ने न सिर्फ बयान दिया है, बल्कि काफी कड़ी भाषा का प्रयोग किया है। पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र सरकार और कंगना रनौत के बीच काफी विवाद देखने को मिला है और इस दौरान हुई घटनाओं ने पूरे देश का ध्यान अपनी ओर खींचा है।

क्या कहा उदित राज ने?

कांग्रेस नेता और लोकसभा के पूर्व सांसद उदित राज ने ट्वीटर पर कंगना को ‘नशेड़ी’ कहकर संबोधित किया है। उदित राज के ट्वीट की जो भाषा है, उसे देखकर तय लग रहा है कि उन्हें विरोधी खेमे से भी कड़ा जवाब मिलेगा। उन्होंने ट्वीट किया, ‘नशेड़ी कंगना रनौत से आज राज्यपाल मिले। गोदी मीडिया, भाजपा IT सेल & भक्त सभी समर्थन कर रहे हैं। चोर, अपराधी और भ्रष्ट सभी का स्वागत बशर्ते भाजपा का समर्थक हो।’ उदित राज के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स ने भरपूर प्रतिक्रिया दी है।

राज्यपाल से मिली थीं कंगना
गौरतलब है कि कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल ने रविवार दोपहर राजभवन में महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात कर अपने और सत्तारूढ़ दल शिवसेना के बीच तनाव के मुद्दे पर बात की। अपनी इस मुलाकात के बाद कंगना ने ट्वीट कर लिखा, ‘थोड़ी देर पहले मैंने महाराष्ट्र के महामहिम राज्यपाल श्री भगत सिंह कोश्यारी जी से मुलाकात की। मैंने उनके साथ अपने दृष्टिकोण साझा किए और मुझे न्याय दिलाए जाने का भी अनुरोध किया, इससे सिस्टम पर आम लोगों, खासकर बेटियों के विश्वास की भावना बढ़ेगी।’
इस तरह शुरू हुआ था बवाल
अपने ट्वीट में मुंबई के कानून व्यवस्था और प्रशासन की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के साथ करने के बाद कंगना रनौत को शिवसेना सरकार के आक्रोश का सामना करना पड़ा, जिसके चलते उनकी सुरक्षा की बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से वाई-प्लस सिक्योरिटी प्रदान की गई। 9 सितंबर को कड़ी सुरक्षा के बीच कंगना मुंबई पहुंची। उसी दिन, बृहन्मुंबई नगर निगम ने अवैध निर्माण का हवाला देते हुए उनके दफ्तर को नुकसान पहंचाया गया था।