इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड हैरान करने वाला फैसला , 62 सदस्यों की जाएगी नौकरी

244

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने एक बड़ा और हैरान करने वाला कदम उठाया है। ईसीबी ने एक झटके में 60 से ज्यादा लोगों बेरोजगार करने का फैसला किया है। बोर्ड कोरोना वायरस महामारी की वजह से अपने यहां 20 फीसदी कर्मचारी कम करने का फैसला कर चुका है। इस तरह इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड से जुड़े 62 लोगों की नौकरी जाएगी। बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) टॉम हैरीसन ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी।

टॉप हैरीसन ने ईसीबी की वेबसाइट पर जारी किए गए बयान में कहा है कि यह कदम कोविड-19 महामारी के कारण आए आर्थिक संकट के कारण उठाया जा रहा है। हैरीसन ने अपने बयान में कहा है, “हाल के सप्ताह में हमने ईसीबी के ढांचे और बजट की समीक्षा की है, ताकि लागत को हमारे उद्देश्यों की पूर्ती के लिए कम किया जा सके। हमने अपने साथ काम करने वाले लोगों से यह शेयर किया और इसे मंजूरी मिल गई है, इससे जरूरी बचत की जा सकेगी। इससे ईसीबी का हर हिस्सा प्रभावित होगा और यह बचत तभी संभव है जब हम कुछ कटौती करें।”

उन्होंने इस बयान में आगे कहा, “इन प्रस्ताव में 20 फीसदी कर्मियों में कटौती करने की बात है, जिसके मुताबिक 62 नौकरियों को कम करना होगा। साथ ही हम मौजूदा पदों की संख्या में बदलाव कर बचत करना चाह रहे हैं।” हालांकि, हैरीसन ने कहा कि ईसीबी उन लोगों की मदद करने के लिए तैयार है जो इस प्रस्ताव से प्रभावित होंगे। उन्होंने कहा, “आने वाले दिनों में इस प्रस्ताव से प्रभावित होने वाले हमारे साथियों की हम मदद करेंगे।”

ईसीबी ने ये कदम उस समय उठाया है, जब बोर्ड ने इंग्लैंड बनाम वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज, इंग्लैंड बनाम आयरलैंड वनडे सीरीज, इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान टेस्ट और टी20 सीरीज और इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया सीरीज से मोटी कमाई ब्रॉडकास्टिंग राइट्स के तौर पर की है।