अमित शाह: अमृतसर में स्वर्ण मंदिर को एफसीआरए की मंजूरी देना निर्णायक कदम 

610
Amit Shah
Amit Shah

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को ट्वीट कर कहा, अमृतसर में स्वर्ण मंदिर को विदेशी फंड प्राप्त करने की अनुमति देने का सरकार का निर्णय एक निर्णायक कदम है और यह एक बार फिर सिख भाई-बहनों की सेवा भावना के जज्बे को प्रदर्शित करेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी धन्य हैं कि ‘वाहे गुरु जी’ ने उन्हें ‘सेवा’ का मौका दिया। श्री दरबार साहिब के देवत्व से हमें शक्ति मिलती है।

दशकों से दुनियाभर की संगत वहां अपनी सेवा नहीं दे पा रहीं थी। मोदी सरकार के श्री हरमंदिर साहिब को एफसीआरए की अनुमति देने के फैसले से दरबार साहिब और पूरे विश्व में उनकी संगत के बीच सेवाभाव और अधिक गहरा होगा। यह हम सबके लिए बहुत ही सौभाग्य की बात है। केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री और अकाली दल की नेता हरसमिरत कौर बादल ने एफसीआरए की मंजूरी दिए जाने पर शाह का अभिवादन किया। 

बुधवार को केंद्रीय गृहमंत्रालय ने श्री हरमंदिर साहिब को एफसीआरए, 2010 के तहत पंजीकरण को मंजूरी दी थी। इसके तहत अब वह विदेश से धन प्राप्त कर सकेगा। सचखंड श्री हरमंदिर साहिब श्री दरबार साहिब पंजाब एसोसिएशन को एफसीआरए  2010 के तहत पंजीकरण की मंजूरी दी गई है। इसकी स्थापना 1925 में की गई थी। एसोसिएशन का एफसीआरए पंजीकरण पांच साल की अवधि के लिए वैध होगा।